Clickadu
कानपुर देहात

अमरौधा : मिशन प्रेरणा के तहत परिषदीय विद्यालयों में ई-पाठशाला की हुई समीक्षा



कानपुर देहात। मिशन प्रेरणा के अंतर्गत अमरौधा विकासखंड के परिषदीय विद्यालयों में ई पाठशाला ,दीक्षा एप रीड लॉन्ग ऐप आदि गतिविधियों की समीक्षा बैठक गुरुवार को भोगनीपुर बीआरसी में संपन्न हुई।अकादमिक रिसोर्स पर्सन (एआरपी) रवि द्विवेदी ने बताया ई पाठशाला फेस टू के तहत एनड्रॉयड मोबाइल फोन न रखने वाले परिवारों में ऑफलाइन माध्यम से भी परिषदीय विद्यालय के बच्चों के  पठन-पाठन की निरंतरता हेतु प्रयास किया जा रहा है जिसमें राज्य द्वारा साप्ताहिक  कक्षा व विषय वार पाठ्य पुस्तक व कार्य पुस्तिका आधारित गृह कार्य उपलब्ध कराया जाता है जिसे अभिभावकों को बुलाकर बताया जा रहा है। बच्चों को निशुल्क पाठ्य पुस्तकें पूर्व में मिल चुकी है इस कार्य को पाठ्य पुस्तक और कार्यपुस्तिका के माध्यम अभिभावकों के सहयोग से बच्चे घर पर ही करेंगे।एआरपी मनोज शुक्ला ने बताया रीड एलॉन्ग ऐप  बच्चों के पढ़ने की कुशलता के लिए बहुत उपयोगी है जिसके लिए व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार किया जा रहा है क्योंकि यह ऐप एक बार डाउनलोड करने के बाद बिना डाटा के ऑफलाइन भी काम करता है जिसके माध्यम से बच्चे हिंदी और अंग्रेजी के शब्द और कहानियां इत्यादि पढ़ना सीख सकते हैं।बैठक की अध्यक्षता कर रहे हैं। एसआरजी (स्टेट रिसोर्स ग्रुप के सदस्य) अजय कुमार गुप्ता ने कहा कि मिशन प्रेरणा के अंतर्गत कक्षा 1 से लेकर 5 तक भाषा और गणित के लक्ष्य निर्धारित हैं जिन्हें प्रत्येक बच्चे को मार्च 2022 तक प्राप्त कराना है उस दृष्टि से सभी शिक्षकों में प्रेरणा लक्ष्य ,प्रेरणा सूची व प्रेरणा तालिका की स्पष्ट समझ होनी चाहिये।दीक्षा एप के माध्यम से  प्रस्तावित प्रशिक्षण  सभी शिक्षक समय से पूर्ण करें।एआरपी अखिलेश यादव ने बताया कि  प्रेरणा लक्ष्य के प्रचार प्रसार हेतु प्रत्येक विद्यालय में फ्लेक्स, चार्ट, पोस्टर इत्यादि लगाने का सुझाव दिया जा रहा है।एआरपी प्रवीण त्रिपाठी ने बताया कि राज्य द्वारा उपलब्ध कराई गई आधारशिला ,ध्यानाकर्षण व शिक्षण संग्रह हस्त पुस्तिकाएं अमरौधा विकासखंड  के शिक्षकों को उपलब्ध करा दी गई हैं।

AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

Back to top button