Clickadu
कानपुर देहातउत्तरप्रदेशप्रयागराजफ्रेश न्यूज

बेसिक शिक्षा अधिकारी कानपुर देहात कार्यालय का एक और कारनामा विभागीय उच्चाधिकारियों के दिशा निर्देशों एवं आदेशों का खुला उल्लंघन

राज्य परियोजना निदेशक उप्र लखनऊ के आदेश पत्रांक:अधि0/कार्मिक पटल परि0/1749/2022-23 दिनांक-27 जून 2022 द्वारा मण्डलीय सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक समस्त मण्डल तथा जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी समस्त जनपद उत्तर प्रदेश को स्पष्ट रूप से निर्देशित किया गया है कि मण्डल / जिला / ब्लॉक स्तरीय कार्यालयों में कार्यरत आउटसोर्सिंग संविदा कार्मिकों व लेखा कार्मिकों जोकि एक ही पटल/ब्लॉक पर 03 वर्ष से अधिक से कार्यरत हैं.

Story Highlights
  • पूर्व बीएसए राजेश कुमार शाही के आदेश को डाला कूड़ेदान में, स्थानांतरित ब्लॉक में किसी ने ग्रहण नहीं किया कार्यभार 

कानपुर देहात, अमन यात्रा :  राज्य परियोजना निदेशक उप्र लखनऊ के आदेश पत्रांक:अधि0/कार्मिक पटल परि0/1749/2022-23 दिनांक-27 जून 2022 द्वारा मण्डलीय सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक समस्त मण्डल तथा जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी समस्त जनपद उत्तर प्रदेश को स्पष्ट रूप से निर्देशित किया गया है कि मण्डल / जिला / ब्लॉक स्तरीय कार्यालयों में कार्यरत आउटसोर्सिंग संविदा कार्मिकों व लेखा कार्मिकों जोकि एक ही पटल/ब्लॉक पर 03 वर्ष से अधिक से कार्यरत हैं अर्थात जिनका कार्यकाल एक ही जगह पर 3 वर्ष पूर्ण हो गया है उनके पटल/ ब्लॉक परिवर्तन की कार्यवाही 30.06.2022 तक पूर्ण की जाये।

ये भी पढ़े-  अन्य जनपद के जिलाधिकारियों को प्रदर्शित किए गए प्रस्तुतिकरण से बहुत ज्यादा सीखने की आवश्यकता: मुख्य सचिव 

आदेश के अनुपालन अर्थ पूर्व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राजेश कुमार शाही ने ब्लॉक स्तर एवं जनपद स्तर पर तैनात लिपिकों, सहायक लेखाकारों एवं कंप्यूटर ऑपरेटरों के स्थानांतरण 30 जून 2022 को किए थे, लेकिन किसी के द्वारा उक्त आदेश का अनुपालन नहीं किया गया क्योंकि आदेश के उपरांत नवीन जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी रिद्धी पांडे ने कार्यभार ग्रहण किया था उनको इस संदर्भ में कोई जानकारी नहीं थी। सभी विकासखंडो के सहायक लेखाकार एवं कंप्यूटर ऑपरेटर अभी भी अपने पूर्व विकासखंड में कार्य कर रहे हैं और पूर्व बेसिक शिक्षा अधिकारी का पत्र कूड़ेदान में पड़ा हुआ है।

ये भी पढ़े-  धूमधाम से मनाया गया “सीएचसी पुखरायां” में जन्मी चार नवजात कन्याओं का जन्मोत्सव

स्वेच्छाचारिता एवं मनमानी के चलते विभागीय उच्चाधिकारी के आदेश को ठेंगा दिखाकर निर्देशों का उल्लंधन करते हुए करीब 3 माह का समय बीत जाने के बाद भी जनपद स्तर एवं ब्लॉक स्तर के संविदा कर्मचारी पूर्ववत स्थान पर कार्यरत रहते हुए दबाववश विभिन्न प्रकार के भ्रष्टाचार एवं अनियमितताओं में संलिप्त हैं। स्पष्ट निर्देश के बावजूद संविदा कार्मिकों का पटल परिवर्तन आदेश निर्गत न कर राज्य परियोजना निदेशक उप्र लखनऊ के आदेश पत्रांक:अधि0/कार्मिक पटल परि0/ 1749/ 2022-23 दिनांक -27 जून 2022  का अनुपालन अब तक नहीं कराया गया जबकि उसी तिथि को निर्गत परिषदीय लिपिकों के ब्लॉक परिवर्तन सम्बन्धी आदेश का अनुपालन उसी समय करा दिया गया।विडम्बना है कि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय द्वारा विभागीय उच्चाधिकारी के आदेशों का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन कर स्वेच्छाचारिता का परिचय देते हुए विभिन्न प्रकार की अनियमितताओं एवं भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया जा रहा है।

AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button