Clickadu
आपकी बात

बच्चों के साथ रिश्ता और टैक्नोलॉजी

आजकल बच्चों में नई-नई तकनीक को लेकर जबरदस्त क्रेज है।पिता अपने बच्चों के साथ लैपटॉप और टैबलेट पर अच्छा खासा समय बिताते हैं, उनके साथ गेम खेलते हैं और मजे करते हैं।

आजकल बच्चों में नई-नई तकनीक को लेकर जबरदस्त क्रेज है।पिता अपने बच्चों के साथ लैपटॉप और टैबलेट पर अच्छा खासा समय बिताते हैं, उनके साथ गेम खेलते हैं और मजे करते हैं। देखा जाए तो बच्चों के साथ रिश्ता बढ़ाने के लिए टैक्नोलॉजी एक अच्छा-खासा माध्यम बन सकती है।

 

क्या आप अपने बच्चे के साथ उसकी पसंदीदा वीडियो गेम खेलते हैं? क्या आप अपने बच्चे के साथ डाइनिंग टेबल पर बैठ कर किसी सोशल साइट के बारे में डिस्कस करते हैं? अगर ऐसा नहीं है तो आपको अपने बच्चे के साथ थोड़ा टैकी होने की जरूरत है।टिपिकल पापा बनने से अच्छा है आप उसके साथ एडवांस हों और उसे उसके तरीके से हैंडल करें। बच्चे अक्सर अपने पेरैंट्स से इन्हीं कारणों से अलग हो जाते हैं।अगर आप अपने बच्चे के साथ टैक्नीकल चीजों पर बात करेंगे, तो दोनों के रिलेशन पर अच्छा असर पड़ेगा।

 नई तकनीक के बारे में जानें:- आपको अपने बच्चे के साथ अच्छा रिश्ता बनाने के लिए नई तकनीक के बारे में अच्छा ज्ञान होना चाहिए या फिर उसके बारे में जानने की उत्सुकता होनी चाहिए।सोशल साइट्स पर उनके साथ जुड़ें बच्चों के साथ जुडऩे के लिए आप उनके साथ सोशल साइट्स पर जुड़ें।अगर वह कुछ नया करते हैं तो उस बारे में पूछें।इस तरह आप दोनों के बीच कम्युनिकेशन बढ़ेगा। विदेशों में 10 में से 7 माता-पिता अपने बच्चों के साथ सोशल साइट्स पर जुड़े रहते है, जबकि भारत में ऐसे पेरैंट्स की कमी है।यहां के शहरी क्षेत्रों के माता-पिता भी बहुत कम अपने बच्चों के साथ सोशल साइट्स के माध्यम से जुड़ते हैं।

 टैकी पापा बनने के कुछ टिप्स:- मार्कीट में हर सप्ताह लांच होने वाले नए फोन्स या गैजेट्स के बारे में जानें। अगर आप किसी नई टर्म के बारे में नहीं जानते हैं, तो अपने बच्चों से पूछने से न कतराएं।अपने बच्चों के साथ मोबाइल एवं वीडियो गेम्स खेलें।उनके साथ सोशल साइट्स पर कनैक्ट रहें और उन पर ऑनलाइन गतिविधियों को ले कर निगाह भी रखें।

 इंटरनैट का सही इस्तेमाल:- इन दिनों छोटे-छोटे बच्चे भी इंटरनैट के बारे में जानने लगे हैं और उनका इस्तेमाल कभी गेम्स खेलने या फिर नई-नई टैक्नोलॉजी को आजमाने में करते रहते हैं। माता-पिता भी उन्हें ऐसा करने से नहीं रोक पाते, क्योंकि वे अपने बच्चे की तरक्की के आड़े नहीं आना चाहते। फिर भी आपके बच्चे इंटरनैट पर क्या देख रहे हैं, उस ओर ध्यान देना बहुत जरूरी है। टैक्नोलॉजी न तो खराब होती है और न ही अच्छी, इसलिए घर में इंटरनैट लगवाने से पहले यह जान लें कि बच्चे उसका सही प्रयोग करें।

 रिसर्च के काम में:- कई बच्चे इंटरनैट का प्रयोग स्कूल में दिए गए प्रोजैक्ट को बनाने के लिए करते हैं। यदि आपका बच्चा अपनी बुद्धि बढ़ाने के लिए इंटरनैट इस्तेमाल करता है तो उसे मना न करें। इसके अलावा बहुत से बच्चे अपने स्कूल में दिया गया सारा प्रोजैक्ट इंटरनैट से ही कॉपी कर लेते हैं। ऐसे में उन्हें समझाएं कि वे अपनी क्रिएटीविटी का प्रयोग करें।

 कैल्कुलेटर का प्रयोग:- क्या आपके बच्चे को 11 या 7 का टेबल आती है? कई बच्चे टेबल याद करने की अपेक्षा उन्हें कैल्कुलेटर से देख कर प्रयोग करते हैं।उन्हें समझाएं कि बुद्धि और मेहनत से वे इंटरनैट को भी हरा सकते हैं।उन्हें बेसिक टेबल याद करवाएं।

 सामान्य ज्ञान:- आजकल इंटरनैट पर असानी से पता चल जाता है कि ताजमहल किसने बनवाया। ऐसे में बच्चे इतिहास ठीक प्रकार से याद नहीं रख पाते और उनकी बुद्धि कमजोर पडऩे लगती है।

 सोशल नैटवर्किंग:- 18 साल से कम उम्र में किसी भी सोशल नैटवर्किंग साइट पर अपना प्रोफाइल बनाने का प्रावधान नहीं है, लेकिन आजकल के तेज बच्चों को कोई समझ नहीं पाया है। इसके लिए आपको खुद भी सोशल नैटवर्किंग पर एक्टिव रहना पड़ेगा।

 

 

AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

Back to top button