Clickadu
बिजनेसफ्रेश न्यूज

केन्द्रीय कर्मचारियों को मोदी सरकार का तोहफा, डीए 11% बढ़कर 28% हुआ

कोरोना महामारी के बीच केन्द्र सरकार के लाखों कर्मचारियों को राहत देते हुए मोदी सरकार ने महंगाई भत्ते में 11 फीसदी का इजाफा किया है. जिसके बाद अब महंगाई भत्ता 17 फीसदी से बढ़कर 28 फीसदी हो गया है.

नई दिल्ली,अमन यात्रा : कोरोना महामारी के बीच केन्द्र सरकार के लाखों कर्मचारियों को राहत देते हुए मोदी सरकार ने महंगाई भत्ते में 11 फीसदी का इजाफा किया है. जिसके बाद अब महंगाई भत्ता 17 फीसदी से बढ़कर 28 फीसदी हो गया है. केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कैबिनेट ब्रीफिंग के दौरान बुधवार को कहा कि केन्द्रीय सरकार के कर्मचारियों और वेतनभोगियों का महंगाई भत्ता 28 फीसदी कर दिया गया है. यह 1 जुलाई 2021 से लागू होगा.

मोदी सरकार के तरफ से यह फैसले ऐसा वक्त पर लिया गया है जब पिछले साल इस पर रोक लगा दी गई थी. केन्द्र सरकार की तरफ से पहले 1 जनवरी 2020 तक डीए को रोका गया था और बाद में इसे बढ़ाकर 1 जुलाई 2021 तक रोका गया था. केन्द्र सरकार की तरफ से यह फैसला कोरोना महामारी के बीच सरकार के घटते राजस्व और कल्याणकारी योजनाएं पर बढ़ते खर्च के चलते लिया गया था.

महंगाई भत्ते पर तीन किश्त लंबित है, ये हैं- 1 जनवरी 2020 से लेकर 30 जून 2020- 4 फीसदी, 1 जुलाई 2020 से लेकर 31 दिसंबर 2020 तक 3 फीसदी और 1 जनवरी 2021 से लेकर 30 जून 2021 तक 4 फीसदी. महंगाई भत्ते पर लगी रोक हटाने के बाद केन्द्रीय कर्मचारियों के टेक-हम सेलरी, प्रोविडेंट फंड कंट्रीब्यूशन और ग्रेच्युटी में बड़ा इजाफा देखने को मिल सकता है.

आइये जानते है कितनी बढ़ेगी सेलरी?

आइये जानते हैं कि महंगाई भत्ते पर लगी रोक हटाने के बाद केन्द्र कर्मचारियों के वेतन में कितने का इजाफा हो सकता है. जैसा कि हम सभी जानते हैं कि सातवें पे कमिशन के मुताबिक, लेवल-1 कर्मचारी का मिनिमम ग्रेड पे 1800 और उसकी बेसिल सेलरी 18 हजार से लेकर 56,900 के बीच है. इस एंट्री लेवल के कर्मचारी जिनकी बेसिक सेलरी 18 हजार है उनके प्रोविडेंट फंड और टैक्स में कटौती से पहले टेक-होम सेलरी में 1980 रुपये का इजाफा होगा.

AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

Back to top button