Clickadu
फतेहपुर

गुणवत्ता विहीन मरम्तीकरण के चलते दर्जनों स्थानों पर बने गड्ढों से बढ़ी दुर्घटनाएं

धाता से हिनौता होते हुए चित्रकूट जाने वाला मार्ग जिसका चौड़ीकरण चार-पांच साल पहले किया गया था बताया जाता है कि अब इसे फोरलेन में तब्दील किया जाएगा जो यह दर्शाता है कि इस मार्ग से होकर दर्जनों जनपदों के लोग चित्रकूट धाम जाते हैं

धाता फतेहपुर,अमन यात्रा। धाता से हिनौता जाने वाली सड़क का पिछले साल ही किये गये गुणवत्ता विहीन मरम्तीकरण के चलते दर्जनों स्थानों पर बने गड्ढों पर आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती हैं जबकि इस मार्ग में दिन में हजारों की संख्या में बस, ट्रक और ट्रैक्टर निकलते हैं। यह मार्ग प्रदेश के दर्जनों जनपदों से जुड़ा है।
धाता से हिनौता होते हुए चित्रकूट जाने वाला मार्ग जिसका चौड़ीकरण चार-पांच साल पहले किया गया था बताया जाता है कि अब इसे फोरलेन में तब्दील किया जाएगा जो यह दर्शाता है कि इस मार्ग से होकर दर्जनों जनपदों के लोग चित्रकूट धाम जाते हैं लेकिन इसके रखरखाव में की गई अनियमितताओं तथा प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा खाऊ कमाऊ नीति पर शिकंजा ना कसने की वजह से बालू के भारी वाहनों के चलते कई स्थानों पर गड्ढे हो गए हैं जो अब हल्के वाहनों तथा दोपहिया वाहनों के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं।
हमेशा व्यस्त रहने वाली सड़क में बमरौली से लेकर धाता तक में दर्जनों स्थानों पर इतने बड़े गड्ढे हो गए हैं जिनमें बरसात में पानी भर जाता है और देर सबेर ठीक से दिखाई ना देने के कारण दुर्घटनाएं होती रहती हैं लेकिन सरकारी अमला इस पर अपनी निगाह डालने से कतराता है। काली सड़क के बगल से 2 मीटर कच्चा फुटपाथ जिसे साफ सुथरा रहना चाहिए उनमें बड़ी बड़ी घास एवं झाड़ियां देखने को मिल रही हैं जिससे दुर्घटनाओं में और इजाफा होता है इस कार्य में लगे कर्मचारी भी सिर्फ फर्ज अदायगी करते हैं।
सवाल यह है कि इन्हीं मार्गो से जिले के आला अधिकारी विधायक, सांसद अपने अपने गंतव्य को आते जाते रहते हैं लेकिन ऐसे निकल जाते हैं जैसे उनका इन सब बातों से कोई लेना-देना ना हो।
उधर डीजल और पेट्रोल सरकार द्वारा तीन गुने दामों में बेचकर जनता को यह समझाने की कोशिश करती है कि इस डीजल और पेट्रोल से होने वाली अतिरिक्त आय से सड़कों का निर्माण एवं मरम्मती करण किया जाता है। तो ऐसे में सुव्यवस्थित ढंग से समय-समय पर मार्ग की मरम्मत करते रहना चाहिए।
समय रहते इस व्यस्त मार्ग को अगर ठीक ना कराया गया तो सड़क जल्दी खराब हो गई और दुर्घटनाओं में भी इजाफा होगा।
AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

Back to top button