कानपुर देहातउत्तरप्रदेशफ्रेश न्यूज

पुलिस ने बरामद की वायरल वीडियो में फायर करने वाले व्यक्ति की बन्दूक, डीआईजी ने जताई नाराजगी

रनियां थाना क्षेत्र के फत्तेपुर रोशनाई और आर्यनगर प्रथम के कुछ युवकों के बीच पानी के बतासे खाने को लेकर हुई मारपीट और फायरिंग बमबाजी हुई थी। दोनो पक्षों में 18 लोग घायल हो गए थे। जिनसे दो लोगो के पैर में गोली लगी थी। पुलिस ने गुरुवार रात आर्य नगर प्रथम तथा फतेहपुर रोशनाई से 12 लोगो को उठाने को लेकर शुक्रवार को फिर से आर्यनगर के लगभग दो सैकड़ा महिला और पुरुष हाईवे किनारे इकट्ठा हो गए।

Story Highlights
  • पुलिस ने दोनों पक्षों की 11 लोगों को भेजा जेल
  • युवकों के बीच पानी के बतासे खाने को लेकर हुई मारपीट और फायरिंग बमबाजी हुई थी।

रनियां। रनियां थाना क्षेत्र के फत्तेपुर रोशनाई और आर्यनगर प्रथम के कुछ युवकों के बीच पानी के बतासे खाने को लेकर हुई मारपीट और फायरिंग बमबाजी हुई थी। दोनो पक्षों में 18 लोग घायल हो गए थे। जिनसे दो लोगो के पैर में गोली लगी थी। पुलिस ने गुरुवार रात आर्य नगर प्रथम तथा फतेहपुर रोशनाई से 12 लोगो को उठाने को लेकर शुक्रवार को फिर से आर्यनगर के लगभग दो सैकड़ा महिला और पुरुष हाईवे किनारे इकट्ठा हो गए।

हो हल्ला करने लगे। घटना की जानकारी पर रनिया थाने में मौजूद एएसपी, सीओ, फोर्स लेकर पहुंचे। उन्होंने लोगो को समझाया बुझाकर शांत किया। इसके बाद दोपहर डीआईजी ने घटनास्थल का मुआयना किया। फत्तेपुर रोशनाई गांव जाकर वहां लोगो से घटना की जानकारी ली। गांव में पुलिस तैनात है। फतेहपुर रोशनाई में घटना के बाद से दुकानें बद है। लोगों में दहशत का माहौल है। गुरुवार को उपद्रियो ने लगभग 10 दुकानों पर तोड़फोड़ भी की थी। शुक्रवार को पुलिस ने दोनों पक्षों के 11 लोगों को जेल भेज दिया।

रनियां थाना क्षेत्र के फत्तेपुर रोशनाई और आर्यनगर के लोगो के बीच चले हथगोले, फायरिंग, व मारपीट के मामले आर्यनगर के चेतन सिंह की दी गई, तहरीर के आधार पर पुलिस ने 12 नामजत तथा 40 अज्ञात लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इसके बाद गुरुवार की रात में आर्यनगर व फतेहपुर रोशनाई के 12 लोगो को उठाने को आर्य नगर प्रथम के लगभग 2 सैकड़ा महिला तथा पुरुष हाईवे किनारे इकट्ठा हो गए। फिर से लोगों की इकट्ठा होने की सूचना पर एएसपी राजेश पाण्डेय, सीओ तनु उपाध्याय, एसओ महेंद्र पटेल फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे। और इकट्ठा लोगों से अपने-अपने घरों में जाने की अपील की। लेकिन ग्रामीणों का कहना था कि देर रात पुलिस ने दबिश देकर गांव 8 लोगों को उठाया है।

ग्रामीणों का आरोप था कि पुलिस एक तरफा कार्रवाई कर रही है। लेकिन सदर सीओ व चौहान समाज से आए राजकुमार चौहान व ग्रामीणों से 1 घंटे तक चली बातचीत में सीओ तनु उपाध्याय ने ग्रामीणों को भरोसा दिलाया कि दोनों पक्षों में जो दोषी लोग हैं। उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। पुलिस के पास वीडियो उपलब्ध है, वीडियो में जिसके हाथ में डंडा तथा अन्य औजार हैं। चिन्हित करके कार्रवाई की जाएगी। दोपहर 1 बजे डीआईजी जोगिंदर सिंह घटना स्थल पहुंचे। उन्होंने वहां पर एएसपी राजेश पाण्डेय से बारीकी से घटना के बारे में जानकारी ली। इसके बाद वह गांव में जाकर लोगो से घटना के बारे पूछताछ की। एएसपी राजेश पांडेय और सीओ तनु उपाध्याय को घटनास्थल पर पुलिस फोर्स की तैनाती रहने के निर्देश भी दिए।

बोले डीआईजी- डीआईजी जोगेंद्रर सिंह ने बताया कि 11 लोगों को कस्टडी में लिया गया है। सभी को जेल भेजा जा रहा है। उन्होंने कहा कि दोनों गांव के हिस्ट्रीशीटर की पूरी हिस्ट्री निकाले उन पर गैंगस्टर की कार्रवाई की जाएगी।

दो गांव के बीच हुए मारपीट व फायरिंग के बाद बंद रही दुकानें

रनियां। फत्तेपुर रोशनाई और आर्यनगर के बीच हुए पानी के बतासे खाने को लेकर हुए बमबाजी, चली गोली से आसपास गांव और मोहल्ले में दहशत का माहौल बना हुआ है। दुकानें बंद रही। सड़को पर सन्नाटा पसरा रहा। सड़को पर पुलिस का पहरा लगा रहा। फत्तेपुर रोशनाई और आर्यनगर के लोग घरों ने नही निकले।

छोटेलाल गुप्ता के घर के बाहर पड़े ईट पत्थर देख डीआईजी ने जताई नाराजगी

रनियां। शुक्रवार को फत्तेपुर रोशनाई पहुंचे डीआईजी जोगिंदर सिंह ने घटना स्थल पर जाकर देखा तो वह हैरान रह गए। छोटे लाल गुप्ता के घर के बाहर काफी ईट पत्थर पड़े होने से वह नाराजगी जताई। उन्होंने स्वयं ईट पत्थर उठाकर फेके। उनको देख अन्य पुलिस कर्मियों ने ईट पत्थर उठाकर फेकने लगे। इसके बाद डीआईजी ने कहा कि वीडियो ग्राफी में दोनो पक्षों को वीडियो ग्राफी कराई गई है। जिनके हाथो में ईट और डंडे, लाठी नजर आएंगी उन्हे जेल भेज जायेंगे। किसी को भी नही बक्सा नही जायेगा।

 शुक्रवार को पुलिस ने दोनों पक्षों की 11 लोगों को भेजा जेल

रनियां। आर्यनगर के बीपी सिंह,विश्राम सिंह,मदन सिंह, रितेश सिंह, दीपक सिंह,देवेंद्र सिंह,बाबू, धमेंद्र सिंह, छोटे लाल गुप्ता,रविकांत गुप्ता,सौरभ गुप्ता, पियूष गुप्ता

रनिया एसओ महेंद्र पटेल की तहरीर पर 34 नामजद व 60 अज्ञात पर दर्ज हुआ मुकदमा

रनियां। रनिया एसओ महेंद्र पटेल द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर दोनों पक्षों के 34 नामजद लोगों तथा 60 अज्ञात पर दर्ज हुआ मुकदमा। जिनके नाम इस प्रकार हैं। संजय सेंगर, रविकांत गुप्ता, पीयूष, सौरभ गुप्ता, ज्ञानी ठाकुर, मुकुल, सचिन चौरसिया, प्रशांत ठाकुर, निखिल ठाकुर, गोलू ठाकुर, शेरा, छोटे गुप्ता, रितेश सिंह, देवेंद्र, दीपू, हरिशंकर, लालू टांडिया, लालू, हरिकिशन, सुनील, कल्लू, गंगा सिंह, लल्लन, सौरभ, बाबू, अमन, विश्राम सिंह, मदन, बीपी सिंह, धर्मेंद्र सिंह, चंद, हर्षल, दीपक, पंकज सहित साथ अज्ञात महिला पुरुषों पर धारा 34, 147, 148, 149,160, 188, 307, 323, 336, 332, 353, 504, 506, 341, 120 बी व धारा 7 आईपीसी के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया हैं।

घटना स्थल पर तैनात है कई थानों का फोर्स

रनियां। गुरुवार को फतेहपुर रोशनाई व आर्य नगर प्रथम गांव के लोगों के बीच हुए विवाद के बाद शुक्रवार को भारी पुलिस फोर्स तैनात रहा। अकबरपुर, अमराहट, देवराहट एसओ मोनू, गजनेर, महिला थाना सहित भारी पुलिस फोर्स तैनात रहा।

पुलिस ने बरामद की वायरल वीडियो में फायर करने वाले व्यक्ति की बन्दूक

रनियां। फतेहपुर रोशनाई निवासी छोटे लाल गुप्ता पुत्र सोनेलाल गुप्ता के पास से पुलिस व फॉरेंसिक टीम ने एक बंदूक के साथ दो 12 बोर प्लास्टिक का जंग लगे हुए कारतूस व तीन जिंदा कारतूस तथा घटनास्थल पर मकान की छत में स्टील की रेलिंग में लगा ब्लड का सैंपल, मकान के बाहर फर्ज से एक रक्त रंजिश ईट का टुकड़ा पुलिस ने कब्जे में लेकर सील किया है।

Print Friendly, PDF & Email
AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

AD
Back to top button