Clickadu
उत्तरप्रदेशलखनऊ

यूपी उपचुनाव : बीजेपी ने कसी कमर, दोनों डिप्टी सीएम को दी गई ये बड़ी जिम्मेदारी

रकार की ओर से दोनों उपमुख्यमंत्रियों को भी चुनाव जीताने की जिम्मेंदारी सौंपी गयी है.

सरकार और संगठन की ओर से रणनीति बनाकर किला फतेह करने की कोशिश होने लगी है.

UP assembly by-election: BJP has given a big responsibility to both deputy CMs

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में 8 सीटों पर होने वाले विधानसभा उपचुनाव को बीजेपी ने प्रतिष्ठा का सवाल बनाकर तैयारियां जोरों पर शुरू कर दी है. सरकार और संगठन की ओर से रणनीति बनाकर किला फतेह करने की कोशिश होने लगी है. जमीनी नब्ज टटोलने के लिए प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह और सरकार के दोनों उप मुख्यमंत्री खुद मैदान पर उतरे हैं.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव पहले कानपुर में प्रदेश सरकार में मंत्री रहीं स्वर्गीय कमलरानी वरूण के घर जाकर उन्हें श्रद्घांजलि दी. इसके बाद कार्यकर्ताओं से मिलकर चुनावी तैयारियों की समीक्षा भी की. इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर जमकर हमला भी बोला. इसके बाद वह देवरिया दौरे पर हैं. वहां पर पूर्व विधायक जनमेजय सिंह के निधन के कारण उपचुनाव होने हैं. इन बैठकों में वह चुनावी तैयारियों के साथ विपक्ष की ताकत की थाह लेने में जुटे हैं.

दोनों उपमुख्यमंत्रियों को भी चुनाव जीताने की जिम्मेंदारी सौंपी गयी

उधर, सरकार की ओर से दोनों उपमुख्यमंत्रियों को भी चुनाव जीताने की जिम्मेंदारी सौंपी गयी है. इसी क्रम में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य कानपुर की घाटमपुर विधानसभा पहुंचे. इतना ही नहीं उन्होंने इस दौरान 272 करोड़ की लागत से 212 किमी लम्बी सड़कों और 71 परियोजनाओं का शिलान्यास किया. चुनावी शंखनाद करते हुये वे बोले कि 2020 के उपचुनाव को लेकर तैयार रहें और बीजेपी को वोट देकर कमलारानी जी को सच्ची श्रद्घांजलि दें. इस दौरान उन्होंने आनूपुर मोड़ से परास चौराहा मार्ग का नाम कमलरानी के नाम से करने की घोषणा भी की. इसके अलावा अब उनका दौरा रामपुर, बुलंदशहर, अमरोहा और फिरोजाबाद का है.

जिन 8 सीटों पर उपचुनाव होने हैं, उनमें से 6 सीटें बीजेपी के पास थीं

उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने भी उन्नाव की बंगरमऊ की सीट से सारे समीकरण दुरूस्त करने शुरू कर दिये हैं. इसके बाद वह टुंडला जाएंगे. इन सभी के साथ संगठन के लोग भी वहां पर पहले से मौजूद रहते हैं, जो जमीनी फीडबैक देते हैं. राजनीतिक जानकार राजीव श्रीवास्तव का कहना है कि जिन 8 सीटों पर उपचुनाव होने हैं, उनमें से 6 सीटें बीजेपी के पास थीं. बीजेपी सत्तारूढ़ दल है, ऐसे में उसके लिए यह चुनाव प्रतिष्ठा का विषय है. बीजेपी चाहेगी कि 8 सीटें न जीत पाए तो कम से कम 6 सीटों पर जीत बरकरार रखे.

बीजेपी के प्रदेश मंत्री चन्द्रमोहन ने कहा कि, “बीजेपी हर चुनाव को लेकर संजीदा रहती है. हमारी पार्टी ने पूरी तैयारी कर रखी है. बीजेपी सरकार की बहुत सारी उपलब्धियां हैं, इस कारण जनता बीजेपी के प्रत्याशियों को निश्चित तौर पर विजयी बनाएगी.”

AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

Back to top button