Clickadu
अपना देशउत्तरप्रदेशकानपुरफ्रेश न्यूज

सीएसजेएमयू के शिक्षकों ने दिये छात्रों को करियर और तनाव प्रबंधन संबंधी टिप्स

छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय, कानपुर के स्कूल ऑफ आर्ट्स, ह्यूमैनिटीज एंड सोशल साइंसेज ने कानपुर नगर स्थित विभिन्न विद्यालयों में जाकर करियर काउंसलिंग और तनाव प्रबंधन के लिए जागरुकता कार्यक्रम शुरू किया है।

अमन यात्रा ब्यूरो,कानपुर। छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय, कानपुर के स्कूल ऑफ आर्ट्स, ह्यूमैनिटीज एंड सोशल साइंसेज ने कानपुर नगर स्थित विभिन्न विद्यालयों में जाकर करियर काउंसलिंग और तनाव प्रबंधन के लिए जागरुकता कार्यक्रम शुरू किया है। कुलपति प्रो विनय कुमार पाठक के निर्देशन में शुरू किये गये इस अभियान की शुरूआत आज शहर के प्रतिष्ठित विद्यालय जय नारायण इंटर कॉलेज से हुई। यूनिवर्सिटी@स्कूल नाम के इस कार्यक्रम में इंटरमीडिएट के छात्र-छात्राओं के साथ मानसिक तनाव, चिंता इत्यादि विषयों पर विश्वविद्यालय के शिक्षकों ने संवाद किया।
शिक्षकों ने सर्वप्रथम छात्र-छात्राओं को विश्वविद्यालय की उपलब्धियों, मिशन, उद्देश्य से संबंधित एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म दिखाई। डॉ. पूजा सिंह ने विजन और मिशन के विषय में विस्तृत चर्चा की तथा छात्र-छात्राओं में सकारात्मक ऊर्जा का संचार करते हुए उनको कार्यक्रम से जुड़े रहने और प्रत्यक्ष रूप से संवाद करने के लिए मार्गदर्शन किया। मनोविज्ञान विशेषज्ञ डॉ. प्रियंका शुक्ला ने छात्रों को स्ट्रेस के विषय में विस्तृत जानकारी दी। लक्षणों, बचाव और स्ट्रेस मैनेजमेंट को ध्यान में रखते हुए उन्होंने कांसेस, सबकॉन्शियस और अनकॉन्शियस माइंड तथा स्ट्रेस एंड एंजायटी आदि के बारे में छात्रों को बताया।
डॉ. शुक्ला ने छात्र-छात्राओं को परीक्षा से संबंधित विभिन्न तरह के दबावों को समाप्त करने तथा उसे हल करने के उपायों से अवगत कराया। शिक्षक-छात्र संवाद कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं ने सकारात्मक सोच के साथ नकारात्मकता को अस्वीकार करने का मूल मंत्र जाना। छात्रों को कब पढ़े, कैसे पढ़े और क्या पढ़े पर भी शिक्षकों ने आवश्यक टिप्स सुझाये। इस अवसर पर छात्र छात्राओं ने भी खानपान, दैनिक दिनचर्या, विश्राम, पढ़ने का समय, पढ़ने के ढंग इत्यादि अन्य विषयों से संबंधित प्रश्न पूछे, जिन्हें संबंधित शिक्षकों ने बहुत ही सरलता से उन्हें समझाया।
डॉ. शरद दीक्षित ने छात्र-छात्राओं के ऊर्जा के स्तर को ध्यान में रखते हुए समय का सदुपयोग करने के लिए प्रेरित किया तथा करियर डेवलपमेंट से संबंधित जानकारी साझा की। उन्होंने कहा कि भविष्य में भी वे उनके मार्गदर्शन के लिए सदैव उपस्थित रहेंगे। डॉ. अजय सिंह ने लोगों के साथ संप्रेषण, मंत्रणा, मानवीय संबंध इत्यादि के संबंध में चर्चा की। कार्यक्रम में इंटरमीडिएट के 180 छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया। अंत में उप-प्रधानाचार्य अनिल त्रिपाठी के द्वारा विश्वविद्यालय के सभी शिक्षकों का धन्यवाद ज्ञापन किया गया। कार्यक्रम का संचालन भरत दीक्षित ने किया।
AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

Back to top button