Clickadu
कानपुर देहात

कुपोषित बच्चों के माता-पिता को टीकाकरण हेतु वैक्सीनेशन केन्द्र पर दी जाये प्राथमिकता : जिलाधिकारी

जिलाधिकारी जितेन्द्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में वैक्सीनेशन, गोल्डन कार्ड इत्यादि की समीक्षा बैठक का आयोजन कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गयी. इस बैठक में गोल्डन कार्ड, वैक्सीनेशन जैसे विषयों की समीक्षा की गयी.

कानपुर देहात,अमन यात्रा। जिलाधिकारी जितेन्द्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में वैक्सीनेशन, गोल्डन कार्ड इत्यादि की समीक्षा बैठक का आयोजन कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गयी. इस बैठक में गोल्डन कार्ड, वैक्सीनेशन जैसे विषयों की समीक्षा की गयी, इस समीक्षा में सर्वप्रथम जिलाधिकारी ने आयुष्मान मित्रों की भूमिका का विवरण देने की बात सम्बन्धितों से कही, साथ ही उन्होंने कहा कि वित्तीय वर्ष 2020-21 से 15 माह की आयुष्मान मित्रों की प्रगति और उनको मिलने वाले वेतन का सम्पूर्ण विवरण उपलब्ध करायें, जिससे उनकी भूमिकाओं की सही स्थिति की जानकारी मिल सकें.

ये भी पढ़े- रिमझिम बारिश के चलते एक कच्चा मकान भरभरा कर ढहा, पति-पत्नी की दर्दनाक मौत

जनपद में 40 बीएलई में से 18 कार्यरत है, इसमें डेरापुर व राजपुर ब्लाक में कोई भी बीएलई कार्यरत नही है, इस पर जिलाधिकारी ने इसका कारण बताने हेतु सम्बन्धितों को निर्देशित किया है। जिला कार्यक्रम अधिकारी ने जिलाधिकारी को जानकारी देते हुए कहा कि अभिभावक स्पेशल के अन्तर्गत 350 अभिभावकों का टीकाकरण किया गया, जैसा कि विविद है कि अभिभावक स्पेशल के अन्तर्गत वे अभिभावक आते है जिनके बच्चें कुपोषित है, जिलाधिकारी ने जिला कार्यक्रम अधिकारी से कहा कि ज्यादा से ज्यादा अभिभावकों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करें, साथ ही उन्होंने इस बात के लिए निर्देशित किया कि शाम तक 1000 का लक्ष्य अभिभावक स्पेशल में पूरा कर लिया जाये, साथ ही उन्होंने कहा कि कुपोषित बच्चों के माता-पिता यदि किसी भी सेन्टर पर वैक्सीनेशन हेतु जाये तो उनको प्राथमिकता दी जाये.

 

ये भी पढ़े- तेज बारिश के चलते कच्चा मकान ढहा,मलबे में दबी महिला, हालत चिंताजनक

वहीं डा0 यतेन्द्र ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि जुलाई माह में जनपद में कुल 16 केसेस कोविड-19 के आये है, जिसमें सबसे ज्यादा मामले झींझक ब्लाक से आये है, साथ ही उन्होंने इस बात के लिए निर्देशित किया कि जिन क्षेत्रों में कोरोना के एक भी मामले सामने नही आये है वहां के लोगों का वैक्सीनेशन अवश्य करा लिया जाये, क्योकि जहां पर मामले शून्य आये है वहां के लोगों में हर्टइम्युनिटी कम डब्लब होती है। इसके अलावा उन्होंने जिला विकास अधिकारी गोरखनाथ भट्ट से कहा कि निगरानी समितियों को इस बात के लिए विशेष रूप से निर्देशित किया जाये कि उन राज्यों से जहां पर कोरोना के मामले ज्यादा है.

ये भी पढ़े- डीएम जेपी सिंह ने लंबित परियोजनाओं को समय से पूरा करने के दिये निर्देश

अगर प्रवासी जनपद में आते है तो उनका ट्रेस, टेस्ट ट्रेसिंग भली प्रकार से करायी जाये, जिससे जनपद में तीसरी लहर का प्रभाव न्यून हो जाये। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी सौम्या पाण्डेय, अपर जिलाधिकारी प्रशासन पंकज वर्मा, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व साहब लाल, सीएमओ डा0 एके सिंह, जिला सूचना अधिकारी नरेन्द्र मोहन आदि अधिकारीगण व चिकित्सक उपस्थित रहे।

AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

Back to top button