Clickadu
जालौनउत्तरप्रदेशफ्रेश न्यूज

नाले में डूबने से जुआरी की मौत से आक्रोशित ग्रामीणों ने की नारेबाजी

सिरसा कलार थाना पुलिस के द्वारा हाथ बांधकर जुआरियों को थाने ले जाते समय नाले में छलांग लगाने से एक जुआरी की पानी में डूब कर मौत हो गई जबकि 3 को पुलिस ने बाहर निकाल लिया हाथ बंधे होने के कारण नाले के गहरे पानी में समा जाने से वह तैर नहीं सका

उरई, सत्येन्द्र राजावत। सिरसा कलार थाना पुलिस के द्वारा हाथ बांधकर जुआरियों को थाने ले जाते समय नाले में छलांग लगाने से एक जुआरी की पानी में डूब कर मौत हो गई जबकि 3 को पुलिस ने बाहर निकाल लिया हाथ बंधे होने के कारण नाले के गहरे पानी में समा जाने से वह तैर नहीं सका. आज दोपहर लाश बरामद होने पर दोनों हाथ बंधे होने से नाराज ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर पुलिस के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की मौके पर पहुंचे अपर पुलिस अधीक्षक असीम चौधरी उप जिलाधिकारी जालौन अंकुर कौशिक ने ग्रामीणों को समझाया लेकिन ग्रामीण आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें निलंबित करने की मांग पर अड़े रहे घटना की सूचना पाकर भाजपा नेता एवं पूर्व विधायक छोटे सिंह चौहान जिला पंचायत सदस्य पुष्पेंद्र सिंह सेंगर भी मौके पर पहुंचे।ग्राम पजूना के समीप हुई इस घटना के दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन देने के बाद ही ग्रामीणों ने लाश को उठने दिया मृतक अजय कुमार गुप्ता के चाचा श्रवण कुमार एवं भाई ने भी पुलिस पर हत्या कर लाश को नाले में फेंकने का आरोप लगाया

सिरसा कलार पुलिस के सिपाहियों ने छापा मारकर रिनिया एवं पजूना के पास खेतों में मौके से 4 जुआरियों को दबोच लिया था ग्रामीणों की माने तो पुलिस ने माल फड़ एवं जामा तलाशी में अच्छी खासी नगदी बटोरी थी और मौके से अजय कुमार गुप्ता नरेंद्र सिंह कुठौंदा बुजुर्ग, कल्लू पजूना रोहित रिनिया को गिरफ्तार किया था पुलिस की टीम इन चारों सवारियों के हाथ बांधकर थाने ले जा रही थी गिरफ्तारी का डर होने के चलते जुआरियों ने नाले में छलांग लगा दी जिससे पुलिस टीम के हाथ पैर फूल गए और उन्होंने शाम के अंधेरे में 3 लोगों को तो नाले से बाहर निकाल लिया लेकिन अजय कुमार गुप्ता पुत्र राम लखन निवासी गढग़वा को नहीं ढूंढ पाए बाद में जीतामऊ के गोताखोरों को भी बुलाया गया.

 

जिन्होंने पानी में लापता अजय को ढूंढने का प्रयास किया लेकिन सफल नहीं हो पाए आज दोपहर औरैया से गोताखोर बुलाए गए थे और उन्होंने अजय की लाश को पानी से बाहर निकाला मौके पर जमा प्रत्यक्षदर्शी भीड़ का आरोप था कि पुलिस ने अजय के हाथ बांधे हुए थे जिससे वह पानी से निकलने का प्रयत्न भी नहीं कर पाया और वह डूब गया अजय की लाश के बाहर निकलने के साथ ही ग्रामीणों एवं मृतक के परिजनों ने पुलिस के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की घटना की सूचना पाकर अपर पुलिस अधीक्षक असीम चौधरी उपजिलाधिकारी जालौन अंकुर कौशिक मौके पर पहुंचे और उन्होंने समझाने का प्रयास किया पूर्व विधायक छोटे सिंह चौहान जिला पंचायत सदस्य पुष्पेंद्र सिंह भी मौके पर पहुंचे उन्होंने भी दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ आवाज को बुलंद किया.

अपर पुलिस अधीक्षक ने आश्वासन दिया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद दोषी पुलिसकर्मियों को बख्शा नहीं जाएगा उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की जाएगी तब कहीं ग्रामीणों ने लाश को उठने ने दिया उधर पुलिस अधीक्षक ने भी पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफ आई आर एवं निलंबित करने के संकेत दिए हैं।

AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

Back to top button