Clickadu
कानपुर देहातउत्तरप्रदेशफ्रेश न्यूज

शिक्षक स्कूलों को बेहतर बनाएं, शिक्षा पर दे विशेष ध्यान: जिलाधिकारी

जिलाधिकारी नेहा जैन की अध्यक्षता में शिक्षा विभाग के कार्यों की बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित हुई, बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग के सभी अधिकारी व शिक्षक अपने कर्तव्यों का पूरी निष्ठा से निर्वहन करें और स्कूलों को बेहतर बनाने की दिशा में कार्य करें।

Story Highlights
  • बच्चों को पाठ्य पुस्तकें शत प्रतिशत कराएं उपलब्धता होगी कार्रवाई: जिलाधिकारी
  • आंगनवाड़ी एवं विद्यालयों के गोद लिए अधिकारी अपने-अपने विद्यालयों में भ्रमण कर, संपूर्ण व्यवस्थाए कराएं दुरस्त: जिलाधिकारी
  • सैम-मैम बच्चों का चिन्हीकारण कर शीघ्र सूची कराए उपलब्ध : जिलाधिकारी
  • क्षेत्र में खराब काम करने वाले सीडीपीओ पर कार्रवाई की जाए सुनिश्चित: जिलाधिकारी
  • अनुपस्थित रहने पर जिलाधिकारी ने डीसी मुस्ताक अहमद से स्पष्टीकरण तलब करने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिए । 

कानपुर देहात,अमन यात्रा  : जिलाधिकारी नेहा जैन की अध्यक्षता में शिक्षा विभाग के कार्यों की बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित हुई, बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग के सभी अधिकारी व शिक्षक अपने कर्तव्यों का पूरी निष्ठा से निर्वहन करें और स्कूलों को बेहतर बनाने की दिशा में कार्य करें।

जिलाधिकारी ने बैठक में निपुण भारत, शारदा, समर्थ, कायाकल्प, मिशन प्रेरणा, जल जीवन मिशन, विद्युतीकरण, चहारदीवारी, शौचालय व पेयजल आदि योजनाओं की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि चाहे मनरेगा से हो या ग्राम निधि से या कंपोजिट से, स्कूलों में संपूर्ण कार्य पूर्ण कराएं। वहीं जिलाधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि शासन द्वारा प्राप्त शासनादेशों का अच्छे से अध्ययन करें तथा जो सूचनाएं शासन को उपलब्ध कराई जाती है उन्हें शीघ्र तथा सही पूर्ण तरीके से कराएं, वही विद्यालयों में पाठ्य पुस्तकें बच्चों को ना प्राप्त होने पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए शिक्षा विभाग के अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि शत प्रतिशत पाठ्य पुस्तकों का विद्यालयों में वितरण कराया जाए, उन्होंने कहा कि जो पैसा विभिन्न मदों में उसको कार्य योजना बनाकर खर्च किया जाए ।

ये भी पढ़े-  सरकारी शिक्षकों की छुट्टी अब नहीं होगी बर्बाद, पढ़े कैसे ?

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बताया कि जनपद को निर्धारित कुल नवीन लक्ष्य 34483 के सापेक्ष 48035 बच्चों का नामांकन करते हुए प्रेरणा पोर्टल पर पंजीकृत कर दिया गया है, इस प्रकार जनपद को कुल निर्धारित लक्ष्य 200244 के सापेक्ष 188968 का नामांकन पूर्ण हो चुका है, जिसमे प्रेरणा पोर्टल पर 177816 छात्र-छात्राओं का पंजीकरण हो चुका है। शीघ्र ही लक्ष्य को प्राप्त कर लिया जायेगा।

ये भी पढ़े-   समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर सुरक्षा हेतु होगी पूर्ण व्यवस्था तैनात किए जाएंगे होमगार्ड

प्रेरणा पोर्टल पर पंजीकृत छात्र-छात्राओं की संख्या – 177816 अद्यतन डी०बी०टी० प्रक्रिया के माध्यम से निःशुल्क यूनीफॉर्म, जूता-मोजा, स्कूल बैग, स्टेशनरी एवं स्वेटर से कुल लाभान्वित छात्र-छात्राओं की संख्या – 107806 प्रति छात्र-छात्रा हेतु निर्धारित निःशुल्क यूनीफॉर्म की दर 600/- (दो जोड़ी) प्रति छात्र-छात्रा हेतु निर्धारित निःशुल्क स्वेटर की दर – 200/- (एक) प्रति छात्र-छात्रा हेतु निर्धारित निःशुल्क जूता-मोजा की दर 125/- (एक-एक जोड़ी) प्रति छात्र-छात्रा हेतु निर्धारित निःशुल्क स्कूल बैग की दर – 175/- (एक) प्रति छात्र-छात्रा निर्धारित निःशुल्क स्टेशनरीकी दर 100/- (नोटबुक, पेंसिल, कटर, पेन, रबर (आदि) प्रति छात्र-छात्रा हेतु निर्धारित कुल देव धनराशि 1200/ अद्यतन डी0बी0टी0 प्रक्रिया के माध्यम से कुल लाभान्वित छात्र-छात्राओं के अभिभावकों के बैंक खाते में रु० 127980900/- (रुपये बारह करोड़ उनासी लाख अस्सी हजार नौ सौ मात्र उपलब्ध करा दिया गया है।

ये भी पढ़े-  जिला पंचायत अध्यक्ष नीरज रानी ने “वोकल फॉर लोकल“ ओ.डी.ओ.पी. प्रदर्शनी का किया शुभारंभ 

बैठक में अनुपस्थित रहने पर जिलाधिकारी ने डीसी मुस्ताक अहमद से स्पष्टीकरण तलब करने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिए । मुख्य विकास अधिकारी सौम्या पांडेय ने समर्थ, शारदा आदि योजनाओ से जुड़ी विभिन्न निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा के दौरान सभी खंड शिक्षाधिकारियों को प्रत्येक सूचनाओं से अपडेट रहने के निर्देश दिए। विद्यालयों को कायाकल्प से शत-प्रतिशत पूर्ण कराएं।  बैठक से पूर्व जिलाधिकारी ने आंगनवाड़ी एवं विद्यालयों को गोद लिए अधिकारियों के साथ समीक्षा करते हुए निर्देश दिया कि अपने अपने गोद लिए विद्यालयों का निरीक्षण कर संपूर्ण व्यवस्था है दुरुस्त कराएं कहीं भी लापरवाही न की जाए। विद्यालय एवं आंगनवाड़ी केंद्रों को शत प्रतिशत अधिकारियों के गोद लेने व स्वतः ही उसमें सुधार कर शिक्षण गुणवत्ता एवं आंगनवाड़ी में सुधार होगा।

ये भी पढ़े-  अकबरपुर रामलीला प्रारंभ, शिव बारात में भक्तों की भीड़ ने बढ़ाया उत्साह

तदोपरांत जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी द्वारा आई0सी0डी0एस0 विभाग के अंतर्गत संचालित योजनाओं की समीक्षा करते हुए क्षेत्र में सीडीपीओ द्वारा किये जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए जिला कार्यक्रम अधिकारी को जांच कर स्पस्टीकरण लिए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि लाल, हरी एवं पीली श्रेणी के बच्चों की श्रेणी वार, ग्राम पंचायत वार, एवं विकास खण्ड वार रिपोर्ट तैयार कर पुनः स्वयं सभी सी0डी0पी0ओ0 निरीक्षण करते हुए रिपोर्ट प्रस्तुत करें एवं शासन से उपलब्ध कराया जा रहे पोषाहार का समय से एक साथ वितरण सुनिश्चित किया जाए और साथ ही श्रेणियों में आने वाले सुधार का तुलनात्मक विवरण भी प्रस्तुत किया जाए। उन्होंने निपुण भारत लक्ष्य के अन्तर्गत आंगनवाड़ी केंद्र को भी सम्मिलित कर कार्यवाही किये जाने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिए। बैठक में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी रिद्धि पांडेय, जिला कार्यक्रम अधिकारी राकेश यादव, जिला समन्वयक, समस्त खंड शिक्षाधिकारी, डायट के समस्त प्रवक्ता, एसआरजी व एआरपी मौजूद रहे।

AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button