Clickadu
खेल

एजबेस्टन : ऋषभ पंत ने लगाई रिकॉर्ड्स की झड़ी, धोनी भी रह गए पीछे

इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रहे एजबेस्टन टेस्ट में पहले दिन टीम इंडिया 7 विकेट के नुकसान पर 338 रन बनाकर मजबूत स्थिति में नज़र आ रही है. टीम इंडिया को इस स्थिति में पहुंचाने का श्रेय ऋषभ पंत को जाता है जिन्होंने 111 गेंदों पर 146 रन की पारी खेली.

क्रिकेट :  इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रहे एजबेस्टन टेस्ट में पहले दिन टीम इंडिया 7 विकेट के नुकसान पर 338 रन बनाकर मजबूत स्थिति में नज़र आ रही है. टीम इंडिया को इस स्थिति में पहुंचाने का श्रेय ऋषभ पंत को जाता है जिन्होंने 111 गेंदों पर 146 रन की पारी खेली. अपनी इस पारी में पंत ने 20 चौके और 4 छक्के जड़े. इसके साथ ही पंत ने कई रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए हैं. उन्होंने पूर्व कप्तान धोनी के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया है.

पहले टेस्ट में शतक लगाते ही पंत अब भारत की ओर से टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज शतक लगाने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज बन गए हैं. पंत ने 89 गेंद में अपना शतक पूरा किया. वहीं धोनी ने 2005 में 93 गेंद में अपना शतक बनाया था और ये रिकॉर्ड अपने नाम किया था. पंत अब एजबेस्टन के मैदान पर सबसे तेज शतक लगाने वाले बल्लेबाज भी बन गए हैं.

अपनी शतकीय पारी की बदौलत पंत टेस्ट क्रिकेटर में 2000 रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं. पंत टेस्ट में 2000 रन बनाने वाले चौथे विकेटकीपर बल्लेबाज हैं. उनसे पहले धोनी, सैयद किरमानी, फारुख इंजीनियर ही टेस्ट में 2000 से ज्यादा रन बना सके थे. वहीं पंत टेस्ट क्रिकेट में 2000 रन बनाने वाले सबसे युवा भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज भी बन गए हैं. ऋषभ पंत ने टेस्ट की 52 पारियों में 2000 रन के आंकड़े को छुआ, जबकि धोनी ने 2000 रन पूरे करने के लिए 60 पारियों खेली थीं.

एक कैलेंडर वर्ष में दो टेस्ट शतक (भारतीय विकेटकीपर)

  • बूधी कुंदरन- 1964
  • एमएस धोनी- 2009
  • ऋद्धिमान साहा- 2017
  • ऋषभ पंत- 2022

एशिया के बाहर भारत के लिए सबसे तेज टेस्ट शतक

  • वीरेंद्र सहवाग बनाम वेस्टइंडीज, साल 2006 में- 78 गेंद
  • मोहम्मद अजहरुद्दीन बनाम इंग्लैंड, साल 1990 में- 88 गेंद
  • ऋषभ पंत बनाम इंग्लैंड, साल 2022 में- 89 गेंद
  • एमएस धोनी बनाम पाकिस्तान, साल 2006 में- 93 गेंद
AMAN YATRA
Author: AMAN YATRA

SABSE PAHLE

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button